Crusade information and fact in hindi | धर्मयुद्ध क्या है

3
270
views

आज हम जानेंगे धर्मयुद्ध (crusade) क्या हैं, यह क्यों हुआ इसके कारण क्या है साथ ही जानेंगे धर्मयुद्ध (crusade) के परिणाम के बारे में।

Crusade-information-and-fact-in-hindi-धर्मयुद्ध-क्या-है

धर्मयुद्ध (crusade)

धर्मयुद्ध 1095ई. में आरम्भ होकर लगभग दो शताब्दियों तक सम्पूर्ण यूरोप में चला इस युद्ध का नारा था “इश्वर यह चाहता है ..इश्वर यह चाहता है।” यह धर्मयुद्ध सशस्त्र तीर्थयात्राए थी जो पवित्र भूमि यरूशलम को मुसलमानों से मुक्त करने के लिए की जाती थी।

धर्मयुद्ध (crusade) के कारण – ईसाई पोप उर्बान ने अपने प्रवचन में ईसाइयो को मुसलमानों से लड़ने के लिए कहा उनके शब्दों में यरूशलम का एक-एक स्थान ईसा द्वारा उच्चारित शब्दों से और उसके किये चमत्कारिक कार्यो से प्रभावित हो रहा है।

मुसलमान पहले ईसाई धर्म के प्रति सहिष्णु थे, किन्तु बाद में अहिष्णु हो गए थे। सल्जुक तुर्क मुसलमान बन गए थे तथा उन्हें तुर्की से निकाल दिया गया था अधिकांश ईसाइयो को विश्वाश था की इस लोक में कष्ट सहने से उन्हें परलोक मी लाभ होगा पूर्व की अत्यधिक समृद्धि की कहानियो ने पश्चिम के बहुत से किसानो को इस युद्ध में भाग लेने को प्रेरित किया।



धर्मयुद्ध के परिणाम

धर्मयुद्ध(crusade) ईसाईयों की पवित्र भूमि यरूशलम पर अधिकार कर पाने में असफल रहा लेकिन इससे नए यूरोप का निर्माण अवश्य हुआ ईसाई लोग युद्ध में असफल अवश्य हुए किन्तु उन्हें अरबो के सहयोग से एक नई सभ्यता को समझने का मौका अवश्य मिला।

चिकित्सा, विज्ञान, दर्शन, भूगोल और कला में मुसलमानों और बाईजेंटियन की उपलब्धियों ने यूरोप को प्रेरणा दी अब यूरोपीय नागरिक दिक्सूचक का प्रयोग करने लगे अधिकाधिक यूरोपियन महिलाये मखमल, रेशम, छींट और दाम्स्क के चोंगे पहनने लगी।

व्यापारियों को इस बहाने पूर्व से व्यापार बढ़ाने का अवसर मिला इटली के नगरो को व्यापारी पवित्र भूमि में लड़े जाने वाले युद्धों के लिए जहाजो का निर्माण करके और उन्हें आवश्यक सामग्रियाँ बेच-बेच कर मालामाल हो गए। लंदन, पेरिस, कोलोन और हैम्बर्ग मुख्यतः व्यप्पर बढ़ जाने के कारण बड़े नगर बने सामंत तंत्र को दुर्बल करके राजा की शक्ति को बढ़ा दिया।



“धर्मयुद्ध (crusade) और धर्मयुद्ध के परिणाम हो बहुत की कम शब्दों और आसान शब्दों में बताने का कोशिश किया गया है अगर आपको यह जानकारी पूर्ण लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और रोजाना ऐसे ही जानकारी पूर्ण पोस्ट पढने के लिए जुड़े रहे हमसे।”

info. about oceans & facts in hindi|महासागरो की जानकारी

TI (आईटीआई) करने के बाद घर बैठे सबसे अच्छे कोर्स

भारत का वृहत मैदान और प्रायद्वीपीय भूमि |भारत का भौतिक स्वरूप

रोजाना ऐसे ही ज्ञानपूर्ण पोस्ट पढने के लिए bell icon को click करके वेब नोटीफिकेशन को चालू कर लीजिये या अपने ईमेल के द्वारा हमें ब्लॉग को subscribe कर लीजिये जिससे नया पोस्ट आते ही आपको सबसे पहले मिल जाया करेंगे धन्यवाद।

Gyanyukt.com

3 COMMENTS

  1. […] Crusade information and fact in hindi | धर्मयुद्ध क्या है | Renaissance fact & information in hindi – पुनर्जागरण क्या है | Arabian Civilization history & fact in hindi|अरब की सभ्यता | भारत का वृहत मैदान और प्रायद्वीपीय भूमि |भारत का भौतिक स्वरूप | What is a pressure in hindi | दाब क्या है, दाब के प्रकार […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here