Coronavirus intresting informative facts|कोरोना वायरस तथ्य

0
14

Coronavirus intresting informative facts|कोरोना वायरस से जुड़ी रोचक जानकारी

आज पूरा विश्व कोरोना वायरस से हो रहे तबाही से जूझ रहा है आज विश्व में लाखो के संख्या में इसके मरीज बढ़ते जा रहे है तो बहुत बड़ा परेशानी बना हुआ है, इसके मरीज कम होने के बजाय और अधिक संख्या में तेजी से बढ़ रहे है और यह वायरस बहुत तेजी से पुरे विश्व में फैला है और फैलते ही जा रहा है, यह बहुत गंभीर चिंता का विषय बना हुआ है।

source – s

coronavirus कोरोना वायरस के चलते पुरे विश्व के लोग मुसीबत में फसे हुए है इससे पूरा विश्व अलर्ट हो चूका है यह बहुत खतरनाक वायरस है जो इंसानों से इंसानों द्वारा फैलता है तो चलिए जानते है इससे जुड़े हुए रोचक जानकारी के बारे में।

वायरस से जुड़े लक्षण

1) पुरे विश्व में तबाही मचने वाले इस वायरस के बारे में अमेरिकी शोधकर्ताओ ने जब शोध किया तो उन्होंने पाया और रिपोर्ट जारी किया और इस WHO ने भी जारी किया अगर कोई व्यक्ति कोरोना वायरस (coronavirus) के चपेट में आ जाता है तो उसे सुखी खासी आने लगता है जो बाद में विकराल रूप लेने लगता है अगर आपको कही ऐसे ही लक्षण अपने शरीर में लगता है तो आप तुरंत जाकर डॉक्टर को दिखाए।

2) और इससे प्रभावित हुए मरीजो में बंद और बहती नाक के भी लक्षण देखे गए है,लेकिन ज़रूरी नहीं है की आपका नाक बंद है या आपका नाक बह रहा है तो इसका मतलब आपको कोरोना वायरस (coronavirus) हुआ है यह आपको सर्दी जुकाम होने पर भी हो जाता है।



3) इसके चपेट में आने वाले मरीजो को तेज बुखार आने लगता है और शरीर का तापमान काफी तेजी से बढ़ने लगता है, रिपोर्ट के नुसार बहुत सारे डॉक्टर्स ने बताया की कोरोना वायरस के वजह से तेज बुखार आने लगता है।

4) अगर कोई व्यक्ति कोरोना वायरस (coronavirus) के चपेट में आ जाता है तो शुरुआत के 5 दिनों में रोगी व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ होने लगता है और इसका कारण रोगी के फेफड़े में जम रहे बलगम के वजह से होता है।

5) साथ ही रोगी व्यक्ति को मांसपेशियों में दर्द होने लगता है WHO के रिपोर्ट के मुताबिक 14 फीसदी लोगो में मांसपेशियों में दर्द की शिकायत और 11 फीसदी लोगो में ठंड लग्न देखा गया है।

6) साथ ही कोरोना वायरस के कुछ मरीजो में छींक आना और गले में खरास आना जैसी समस्याओ को देखा गया है,लेकिन आपको छींक आ रहा है इसका मतलब ये नहीं है की आपको कोरोना वायरस (coronavirus) हुआ है यह एलर्जी या सर्दी हो जाने पर भी आता है।

7) लैंसेट जर्नल में छापी एक खबर के मुताबिक चीन में coronavirus से संक्रमित 3 फीसदी लोगो में डायरिया का भी शिकायत पाया गया हैं, और कुछ लोगो को मितली की भी समस्या थी।



8) अमेरिका के वाशिंगटन नर्सिंग होम के एक रिपोर्ट के मुताबिक एक तिहाई लोगो का कोरोना टेस्ट पॉसिटिव आया था इन मरीजो में बेचैनी की समस्या साथ ही उठने बैठने में बैठने जैसी समस्या देखा गया।

वायरस से बचने के उपाय और तरीका और रोचक तथ्य

1) कोरोना वायरस (coronavirus) से खुद को बचने के लिए अल्कोहोल युक्त सेनेटीज़र का उपयोग करे और अल्कोहोल युक्त हैण्ड रब का इस्तेमाल करे साथ ही अपने हाथ साबुन से धोये।

2) लोगो का धारणा है की गरम पानी से नहाने से कोरोना नहीं होता है पर WHO के रिपोर्ट के अनुसार यह झूट है इससे बचना चाहते हो तो अपना हाथ हमेशा साफ सुथरा रखे और हमेशा अपने को साबुन से धोते रहे।



3) अभी बिच में अफवाहे उड़ने लगी थी की मच्छर के काटने से भी यह वायरस फैलता है पर WHO ने रिपोर्ट में इसका पुष्टि नहीं किया और इस बात को सही करार नहीं दिया गया है,यह स्वसन सम्बन्धी वायरस है जो संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से उसके छींकने खासने या चुने से होता है, इसलिए आप जितना हो सके लोगो से दुरी बनाकर रखे।

4) लोगो ने इस अफवाह को भी मान लिया था की हैण्ड ड्रायर से यह वायरस मर जाता है लेकिन बता दू की इस वायरस को मारने के लिए हैण्ड ड्रायर कारगर नहीं है, आप अपने हाथ हैण्डवाश या साबुन से धोये जिसके बाद आप अपने हाथ साफ़ सुथरे काफ्दे या टिशु पेपर से पोछ सकते है।

5) पराबैगनी कीटाणु नाशक लैंप कोरोना वायरस (coronavirus) को मार सकता है..? हाथ या शरीर के किसी भी हिस्से को कीटाणु रहित करने के लिए इस लैंप का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए इससे त्वचा रोग हो सकता है।



6) अपने शरीर में अल्कोहोल या क्लोरिन का छिडकाव न करे इसके वजह से आप मुसीबत में पद सकते है,आपके सरीर के अन्दर पहुच चुके वायरस को यह नहीं मार सकता है।

7) लोगो का यह भी मानना था की लहसुन खाने से कोरोना वायरस (coronavirus) नहीं होता लेकिन यह बात सही नहीं है और अधिकारिक तौर पर इसका पुष्टि भी नहीं हुआ है, हा लहसुन एक बहुत खाद्य चीज़ है जिसे आप खाते है तो आप स्वस्थ रहेंगे और आपका इम्यून सिस्टम भी अच्छा रहेगा।

8) सिर्फ बच्चो और बुजुर्गो पर करता है हमला..?यह बात गलत है की यह सिर्फ बच्चो और बुजुर्गो पर हमला करता है या सिर्फ इन्हें ही होता है यह है उम्र के लोगो को हो सकता है हा बात ये है की नौजवान लोगो की रोग प्रतिरोधक क्षमता अधिक होने के कारण उन्हें यह जल्दी नहीं होता है और अगर हो जाता है तो वह जल्दी ही रिकवर हो जाते है।

दोस्तों आप सब अपने घरो पर रहे खुद सुरक्षित रहे अपने परिवार को सुरक्षित रखे और दुसरो को भी सुरक्षित रखे…धन्यवाद।

www.gyanyukt.com

इस पोस्ट को दुसरो के साथ भी शेयर कीजिये और उन्हें भी जानकारी दीजिये ताकि वो भी इन बातो को जाने और खुद सुरक्षित रहे और दुसरो को भी सुरक्षित रखे।

साथ ही रोजाना रोचक जानकारियों और एजुकेशन से जुड़े पोस्ट पढने के लिए हमारे वेबसाइट को फॉलो अवश्य कर ले और bell icon को click कर वेब नोटीफिकेशन चालू कर लीजिये जिससे हमारे नए पोस्ट की जानकारी आपको सबसे पहले मिल जाया करेंगी।

Leave a Reply