मिस्र की सभ्यता – Civilization of Egypt fact & info. in hindi

0
170
views

आज हम जानेंगे विश्व के प्राचीन सभ्यताओ में से एक प्राचीन सभ्यता मिस्र की सभ्यता (Civilization of Egypt) के बारे में जानेंगे की इसका इतिहास क्या रहा है और इस सभ्यता की प्रमुख बाते और तथ्य क्या है। 

मिस्र-की-सभ्यता-Civilization-of-Egypt-fact-info-in-hindi

मिस्र की सभ्यता (Civilization of Egypt) 

मिस्र साम्राज्य की स्थापना लगभग 3000 ईसा पूर्व हुआ था मिस्र के प्रथम राजवंश का प्रथम शासक ‘मेनिस’ थे साथ ही विश्व की प्रथम महिला शासक प्राचीन मिस्र की रानी ‘ हटशेपशूट'(Hatshepsut) थी मिस्र को ‘नील नदी की देन’ कहनेवाला प्रमुख इतिहासकार ‘हेरोडोट्स’ थे। 

मिस्र का नेपोलियन कहलाता है ‘थूटमोज तृतीय’ (मध्यकालीन राज्य का एक प्रतापी सम्राट), गीजा स्थित विश्व प्रसिद्ध पिरामिड का निर्माता मिस्र का एक महान ‘फ़राओ चियोप्स’ (खूफू) ने 2589ई.पू. – 2566ई.पू. में विश्व प्रसिद्ध पिरामिडो का निर्माण करवाया था।  

अधिकांश पिरामिडो का निर्माण नील नदी के दक्षिणी किनारे पर स्थित नेनफिस नगर में किया गया था, प्रसिद्ध ‘गीज ऑफ मेडियम’ की दीवारे सफ़ेद और काले रंग में है प्राचीन मिस्र का प्रधान देवता – सूर्य देवता (Sun God) था।  



मिस्र का राजनीतिक इतिहास

मिस्र की सभ्यता (Civilization of Egypt) के समय हुई विभिन्न राजनैतिक घटनाओं को देखते हुए मिस्र के राजनैतिक इतिहास को तीन भागो में विभक्त किया गया है-

  1. पिरामिड युग – 3400 ई.पू. से 2500 ई.पू. तक
  2. सामंतशाही युग – 2500 ई.पू. से लगभग 1800 ई.पू. तक
  3. नविन साम्राज्य – 1580 ई.पू. से 1150 ई.पू. तक

पिरामिड काल का प्रथम शासक ‘मेनिस’ था इसी के समय में मिस्र के वास्तविक राजनैतिक जीवन का आरम्भ हुआ 2500ई.पू. तक फ़राओ की शक्ति का पूर्ण ह्रास हो गया इसके परिणामस्वरूप मिस्र के राजनैतिक इतिहास में एक नए युग का आरम्भ हुआ जिसे सामंतशाही काल कहा जाता है।  

“पिरामिड युग की महत्वपूर्ण उपलब्धि पिरामिड का निर्माण था जिसको फ़राओ ने अपने को मृत्यु के उपरान्त दफनाये जाने के लिए किया था।”



मिस्र के इतिहास में सामंतशाही युग 2500ई.पू. से 1800 ई.पू. तक रहा इसके पश्चात नवीन साम्राज्य की स्थापना हुई जो हर द्रिष्टि से पिरामिड काल का उत्तराधिकारी कहा जा सकता है, इस काल को नवीन साम्राज्य कहा जाता है।  

सामंतशाही युग में मिस्र के उत्तर से हिकसास जाति ने आक्रमण करके मिस्र को पराधीन बना लिया था, यूटमस प्रथम इस काल का (1545ई.पू. से 1524ई.पू.) महान विजेता था तथा महारानी हटशेपशूट(Hatshepsut) (1501 ई.पू. से 1479 ई.पू.) प्रथम महिला शासिका थी महारानी को मंदिरों का निर्माण तथा व्यापार मे अधिक रुचि थी, उसने “करनक्” में एक सुन्दर मंदिर का निर्माण कराया।

रोजाना ऐसे ही ज्ञानपूर्ण पोस्ट पढ़ते रहने के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरुर करे हमारे ब्लॉग को आप अपने ईमेल के द्वारा सब्सक्राइब कर सकते है या फिर bell icon को click करके वेब नोटीफिकेशन चालू कर दीजिये जिससे हमारा नया पोस्ट आते ही आपतक सबसे पहले पहुँच जाया करे अगर यहाँ तक पढ़ लिया है तो आपका धन्यवाद 🙂

Gyanyukt.com

Arabian Civilization history & fact in hindi|अरब की सभ्यता | Renaissance fact & information in hindi – पुनर्जागरण क्या है | Crusade information and fact in hindi | धर्मयुद्ध क्या है | Development of Capitalism & fact in hindi-पूँजीवाद का विकास | info. about oceans & facts in hindi|महासागरो की जानकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here