चक्रवात की जानकारी|Cyclone in hindi

0
17

आज हम जानेंगे चक्रवात के बारे में यह हमारे पर्यावरण का अटूट और महत्वपूर्ण हिस्सा है तो पूर्ण रूप से प्राकृतिक है।

source – google.com

चक्रवात में निम्न वायुदाब के केंद्र होते है, जिसमे वायुदाब प्रवणता तीव्र रहता है।

  • चक्रवात में पवन घुमती हुई चलती है,उत्तरी गोलार्द्ध में इनकी दिशा वामावर्त(घड़ी के सुई की विपरीत) और अन्दर की ओर होती है।
  • दक्षिणी गोलार्द्ध में इनकी दिशा दक्षिणावर्त रहती है, इनका आकार मुख्यतः अंडाकार या V अक्षर के सामान होता है।

चक्रवात दो प्रकार के होते है-

शीतोष्ण कटिबंधीय चक्रवात

इनकी उत्पत्ति पछुआ पवनो की पेटी में 30अंश से 65अंश, अक्षांसो के मध्य होती है।

  • ये अंडाकार होते है, ये चक्रवात प्रायः पश्चिम से पूर्व दिशा में चलते है।
  • आकार में यह 160km से 3200km तक हो सकता है।
  • इनसे हल्की सी मध्यम वर्षा होती है, जो हल्की बौछारों के रूप में होती है।
  • ये बौछारे कभी कभी भारी बौछारों का रूप ले लेती है, जहा अस्थिर उष्ण वायु में संवहन होता है क्योकि, यह वाताग्र के आगे सहित वायु के रूप में तीव्रता से ऊपर उठती है।



उष्ण कटिबंधीय चक्रवात

उष्ण कटिबंधीय चक्रवात एक निम्न भार का तंत्र है जो उष्ण कटिबंधीय अक्षांसो में विकसित होता है, उष्ण कटिबंधीय चक्रवात प्रमुखतः 5अंश से 15अंश अक्षांसो के बीच दोनों गोलार्द्धो में महासागरो के ऊपर पाए जाते है।

  • इनकी उत्त्पत्ति सागरों के पश्चिमी छोर के निकट होती है, जहा पर उष्ण कटिबंधीय धाराए बहुत अधिक जलवाष्प की आपूर्ति करती रहती है।
  • इन चक्रवातो का केन्द्रीय भाग चक्रवात की आँख या शांत क्षेत्र कहलाता है।
  • उष्ण कटिबंधीय चक्रवातो में पवन की दिशा उत्तरी गोलार्द्धो में वामावर्त और दक्षिणी गोलार्द्धो में दक्षिणावर्त रहती है।

चक्रवातो के नाम और स्थान

नाम

  • 1) हरिकेन
  • 2) टाईफून
  • 3) विली-विली
  • 4) टोरनेडो
  • 5) चक्रवात



स्थान

  • करेबियन द्वीप समूह
  • दक्षिणी चीन सागर
  • ऑस्ट्रेलिया
  • अमेरिका
  • हिन्द महासागर

हरिकेन – यह पूर्वी प्रशांत महासागर में मेक्सिको, ग्वाटेमाला, होंडुरास, निकरागुआ, और पनामा के तटवर्ती भागो में उत्पन्न होता है। हरिकेन में एक शांत केन्द्रीय क्षेत्र होता है, जिसके चारो ओर उच्च गति (160km प्रति घंटा) से वायु परिक्रमा करता है।

टाईफून – पश्चिमी प्रशांत महासागर और चीन सागर में उष्ण कटिबंधीय चक्रवातो को टाईफून कहते है।

  • यह एक तीव्र न्यून भार तंत्र होता है, जो उग्र पवनो को उत्त्पन्न करता है, और भरी वर्षा करता है।
  • इसकी गति 160km प्रति घंटा तक होता है।



टोरनेडो – एक अत्यंत तीव्र न्यून दाब केंद्र के चारो ओर विकसित वायु का तीव्रता से घूर्णन टोरनेडो कहलाता है।

  • यह मुख्य रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका में उत्पन्न होता है।
  • यह सबसे विनाशकारी और प्रचंड होता है, इसकी गति 800km प्रति घंटा से भी ज्यादा होता है।

अगर आपको रोजाना ज्ञान से पूर्ण पोस्ट पढना पसंद है साथ ही रोजाना gk online test quiz खेलने के लिए आप हमारे वेबसाइट को अवश्य सब्सक्राइब करे और bell icon को click करके वेब नोटीफिकेशन चालू कर लीजिये जो की बिलकुल फ्री है।

www.gyanyukt.com

Leave a Reply