उत्तर भारत के मैदान|india: nothern plain

0
9

उत्तर भारत के मैदान|india nothern plain

उत्तर भारत के मैदान मुख्यतः भारत india के उत्तर में बहने वाले नदियों के कारण बनी है जिसमे बहुत सारे नदिया शामिल है और यह मैदान बहुत ही जयादा उपजाऊ है.

पूर्व-पश्चिम विस्तार 2400km (यदि सिन्धु के मैदानी भागो को शामिल किया जाए तो 3200km. औसत चौड़ाई 150-300km)

विश्व का सबसे बड़ा जलोढ़ क्षेत्र है जो प्रायद्वीप पठार तथा पर्वतो के उत्तरी चाप के बिच सिन्धु के मुहाने से लेकर गंगा के मुहाने तक फैला है|

यह जलोढ प्रकृति का है तथा यह बांगर (पुराना जलोढ़), खादर(नया जलोढ़), (नदी तल में) भाबर तथा तारे से बना|

मैदानी भाग का उप विभाजन

राजस्थान का मैदान

विस्तार – 650km लम्बा, औसत चौड़ाई 250-300km

थार का विशाल भारतीय मरुस्थल पश्चिमी राजस्थान में वृहत भारतीय मैदान का पश्चिमोत्तर क्षेत्र है अर्ध्द शुष्क मैदान जो थर मरुस्थल के पूर्व में अवस्थित है राजस्थान बांगर कहलाता है,इस क्षेत्र में दक्षिण-पश्चिम में बहने वाली एकमात्र नदी लूनी है लूनी बेसिन के उत्तर सांभर कुचामन तथा डीडवाना महत्वपूर्ण झीले अवस्थित है|

पंजाब – हरियाणा का मैदान

विस्तार – उत्तर-पूर्व से दक्षिण-पश्चिम तक 640km. तथा पूर्व-पश्चिम दिशा में 300km.|

पश्चिम में पंजाब से लेकर पूर्व में यमुना नदी तक विस्तारित है पांच नदियों की भूमि मौलिक रूप में ‘दोआब’ (दो नदियों की बीच की भूमि) की बनी है साथ ही ये बेट (खादर का मैदानी भाग) तथा धाया से बने है|

गंगा का मैदान

विस्तार – 1400km लम्बा तथा 300km चौड़ा

वृह्तम विशाल मैदानी भाग उत्तर प्रदेश बिहार तथा प.बंगाल से होते हुए दिल्ली से कोलकाता तक फैला हुआ है गंगा तथा इसकी सहयक नदिया जैसे – यमुना,घाघरा,गोमती,कोसी,सोन बड़ी मात्रा में जलोड़क जमा करती है जो इस बड़े मैदानी भाग को अधिक उर्वर बनाता है,और ये पश्चिम में गंगा-यमुना दोआब का निर्माण करते है,इस दोआब के पूर्व में रोहिल्खंड का मैदानी भाग है जो पूर्व में अवध के मैदान के साथ मिल जाता है|

ब्रम्हपुत्र का मैदान

विस्तार – लम्बाई 720km एवं चौड़ाई 80km.|

निम्न स्तर पर मैदानी भाग जो ब्रम्हपुत्र नदी तंत्र द्वारा निर्मित है उत्तर में पूर्वी हिमालय (अरुणाचल प्रदेश) पूर्व में पत्त्कोई बूम तथा नगा पहाडियों गारो-खासी-जयंतिया तथा पश्चिम में निम्न गंगा का मैदान एवं भारत-बांग्लादेश सीमा के मध्य एवं भारत-बांग्लादेश सीमा के अवस्थित है|

FOR TECHNICAL NEWS REVIEWS AND TIPS&TRICKS click here…

Leave a Reply